February 25, 2024
Kunwari Chut or Gand Ki Chudai

नमस्कार दोस्तों मैं आप की काजल फिर एक ऐसी लड़की की Hindi Sex Story लाई हु। जो आप के अंदर जोश भर देगी और आप के लंड को तड़पा देगी मुठ मारने को।

तो दोस्तों आज की kamukta कहानी मैं आप पढ़ोगे की पैसो के लिए एक लड़की ने अपनी कुंवारी चूत और गांड की चुदाई( Kunwari Chut or Gand Ki Chudai ) करवाई।

आगे की स्टोरी सीमा जी आप को बताएंगी

चलिए कहानी को शुरू करते है…..

मेरा नाम सीमा है।

मैं दिल्ली के Vasant Kunj की रहने वाली हूँ। और मेरी उमर  22 साल की है।और में जिस लड़की की बात आप को बताने जा रही हूँ उसका नाम कविता है।

जिस लड़की की चुदाई हुई थी, उसके मम्मे मिडिल साइज़ के थे, कमर पतली थी, और गांड एक-दम ज़बरदस्त थी।

मैं दिल्ली से बेंगलुरु जा रही थी, एक पारिवारिक समारोह के लिए। अकेली ही जा रही थी मैं, क्योंकि मेरे माता-पिता एक दिन पहले चले गये थे।

मैं ट्रेन के एसी डिब्बे में थी. जिस केबिन में मैं थी, उसमें एक और लड़की आ गई। वो लड़की लगभाग मेरी ही उमर की थी.

वो लड़की ठीक से बैठ नहीं पा रही थी। पहले मुझे लगा, कि उसको कोई बीमारी होगी। फिर मैंने उससे पूछा –

मैं : क्या हुआ है आपको?

तो उसने कहा: नहीं कुछ नहीं.

और वो बात बदलने लगी. फिर वो सोने चली गई. वो उल्टी सो रही थी, और मैं भी उसके सामने ही सो गई। फिर मैंने उसकी गांड पर हाथ रख कर उससे पूछा-

मैं : क्या हुआ है, बता ना?

तो उसने बता दिया, कि उसकी भयंकर गांड की चुदाई ( Gand Ki Chudai ) हुई थी। और क्योंकि उसकी गांड भी मारी गई थी, तो उसको बहुत दर्द हो रहा था।

फिर मैंने उसकी इजाज़त लेके उसकी पैंट खोली, और उसकी पैंटी नीचे करके देखा।

मैंने देखा, उसकी गांड अभी तक लाल थी। फिर मैंने अपने बैग से पेन किलर क्रीम निकाली,  उसके बाद मैंने उसको वहां मसला, और उसको लेटे रहने को कहा।

फिर मैंने हमसे पूछा-

मैं : क्या हुआ था?

तो वो बताने लगी. अब मैं उसके शब्दों में ही आगे लिख देती हूं।

मेरे कॉलेज के एग्जाम में तीन सब्जेक्ट के एग्जाम में बैक आ गई थी। फ़िर वापस पढ़ने के लिए अलग से पैसे कमाने पड़ेंगे। तो मैंने मेरी एक सीनियर को ये सब बताया, जो मेरे काफी करीब थी।

तो उसने मुझसे कहा, कि मेरे लिए सेक्स करना पड़ेगा।

फिर उसने मुझे एक नंबर दिया। मैंने उसे फोन मिलाया, तो सामने से कोई आदमी बोला। उस आदमी ने मुझे कहा-

आदमी: तुम्हें दो दिन के लिए वो सब कुछ करना होगा, जो मैं कहूंगा।

मैंने उस आदमी को हा कह दी। अगले दिन मैं सुबह काली पैंटी और ब्रा पहन कर ऊपर सलवार-सूट पहन कर निकल पड़ी। मुझे मेरी सीनियर ने एक कंडोम का पैकेट दे दिया।

फ़िर मैं उस आदमी के यहाँ पहुँच गई। वो एक बिल्डिंग के तीसरी मंजिल पर, एक 3बीएचके अपार्टमेंट में रहता था।

उसके घर की घंटी बजाई, तो कामवाली बाई ने गेट खोला। और मुझे अंदर आने को कहा। मैं अन्दर गयी, तो सोफे पर एक लड़का नंगा सो रहा था, और टीवी पर ब्लू फिल्म की वेबसाइट खुली हुई थी।

फ़िर लड़का मेरे पास आया, और मुझे एक कंडोम का पैकेट दे दिया।

मैंने उसको कहा: मेरे पास पहले से कंडोम है।

तो उसने कहा: एक पैकेट से काम नहीं चलेगा।

फिर वो उस लड़के को उठाने लगी, और उसको उठाने के बाद चली गई। उस लड़के ने अभी तक मुझे देखा नहीं था। लड़का जब उठ कर बाथरूम में गया, तो मैं सोफ़ा पर बैठ गयी।

थोड़ी देर बाद जब वो वापस आया, तो उसने मुझे देखा।

मुझे देख कर उसने तौलिया लपेट लिया, और मेरे पास आ गया। मेरे पास आके वो बोला –

लड़का: 2 दिन तक मेरी बात मानेगी?

और मैंने हा में सर हिला दिया। वो लड़का काफी हट्टा-कट्टा था. उसने मुझे उठाया, और बेडरूम में जाके बिस्तर पर पटक दिया। फिर उसने मुझे कपडे उतारने को कहा। मैं बस पैंटी और ब्रा में थी, और वो भी नंगी थी।

फ़िर उसने कहा: समय बर्बाद मत करो।

और ये बोल कर उसने अपने लंड की तरफ इशारा किया। उसका लंड खड़ा था, और बहुत मोटा और बड़ा था। मुझे डर लगा, लेकिन उसके कहने पे मैंने लंड चुसाई( Land Chusai ) शुरू कर दी। 

फिर लंड चूसने के बाद उसने मेरी ब्रा के हुक खोल दिये, और पैंटी भी खोल दी।
अब वो मेरी चूत चटाई  ( Chut Chatai ) लग गया. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था अपनी चूत चटवाने में। फिर उसने मुझे मिशनरी पोजीशन में आने को कहा, और मैंने उसको कंडोम लगाने को कहा।

उसने अपने लंड पर कंडोम लगा लिया, और मेरी चूत पर लंड रख कर एक धक्का दिया।

लेकिन एक धक्के से लंड अंदर नहीं गया। फिर उसने एक तेल लिया, और उसे अपने लंड पर लगाया। बाद में उसने एक धक्का दिया, तो उसका आधा लंड मेरी चूत के अंदर चला गया।

मैं रोने लगी, और उसको धक्का देने लगी। लेकिन वो नहीं माना, और उसने मुझसे कहा-

लड़का: बेबी स्वर्ग का अनुभव करने के लिए दर्द सहन करो।

फिर उसने एक और धक्का दिया, और मेरी चूत में से खून आने लगा। क्योंकि मेरी वर्जिन चूत ( Virgin Chut ) थी। अब मेरी आंखों में से आंसू आने लगे, और मैं जोर-जोर से चिल्लाने लगी।

बाद में उसने चुदाई शुरू की. थोड़ी देर बाद मुझे थोड़ा अच्छा लगा। फिर उसने मुझे 20 मिनट तक चोदा, और बाद में मेरे ऊपर ही सो गया। उसका काम हो चुका था।
थोड़ी देर बाद मैंने उसको अपने ऊपर से साइड किया, और उसका कंडोम उतार दिया। फिर मैंने उसके कहने पर उसके लंड को चूस-चूस के खड़ा कर दिया।

अब वो लेट गया था. मैंने दूसरा कंडोम उसके लंड पर लगाया, और उसके ऊपर आके खेल शुरू किया। मैं उसके लंड के ऊपर बैठ गई, और ऊपर-नीचे होने लग गई।
इस बार बहुत देर तक चूत चुदाई ( Chut Chudai ) चली. बाद में मैं उसके ऊपर ही ढेर होके सो गई। ये चुदाई इतनी ख़तरनाक थी, कि मैं एक घंटे तक उसके ऊपर ही सोती रही।

थोड़ी देर बाद मेरी गांड पर जोर का चांटा पड़ा, जो बाई ने मारा था।
वो खाना लेके आई थी. उसने लड़के का कंडोम उतारा, और उसका लंड टिश्यू से साफ किया। फ़िर वो उस लड़के को जगा कर गई। उसके बाद हमने खाना खाया, और अब शाम के 5 बज चुके थे।

हम दोनों साथ में बाथ टब में नहाते हैं, जहां कुछ भी नहीं किया हमने।

फिर मैं बहार जाके कपडे पहन कर सोफे पे बैठ गयी। बाद में वो लड़का भी आ गया, और बाई ने दारू की बोतल रख दी। हमने दारू पीके थोड़ी इमोशनल बातें की, और बाद में 9 बजे तक हम सो गए थे।

उसके बाद हम दोनों उठे, और बेडरूम में चले गए। फिर वहा भी एक छोटा सा सेशन हुआ, जो ज्यादा खास नहीं था।

उसके बाद मैंने वापस अपने कपड़े पहने, और फोन देखने लगी। दिन की थकावट के कारण मुझे जल्दी ही नींद आ गई।

आगे क्या हुआ वो जान कर आप दांग रह जायेंगे।आगे की कहानी जल्द ही लाऊंगा।
तब तक के लिए अलविदा।
ऐसे और xxx कहानी पढ़ने के लिए readxstories.com पर जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds